कच्चे रिश्ते

मिट्टी के बर्तन में
दरार तो साफ़ दिखती है
लेकिन वो आयी किस तरफ़ से
ये कोई नहीं बता सकता
रिश्तों में भी ऐसा ही होता है
हर कोई सोचता है
कि दरार
उसने पैदा नहीं की
लेकिन कोई उसे
भरने के बारे में
क्यों नहीं सोचता?
रिश्ता है
बर्तन नहीं।

Leave a Reply

Close Menu